spot_img

नीरज चोपड़ा ने तिरंगे पर ऑटोग्राफ देने से इनकार किया:महिला फैन इंडियन फ्लैग लेकर आई, गोल्डन बॉय बोले- यहां साइन नहीं कर सकता

Must Try

हरियाणा के पानीपत के गोल्डन बॉय नीरज चोपड़ा ने एक बार फिर इतिहास रचा। वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप में उन्होंने गोल्ड मेडल जीता, लेकिन इस खिताब को जीतने के बाद नीरज चोपड़ा ने तिरंगे पर ऑटोग्राफ ना देकर करोड़ों भारतीय फैंस का दिल जीत लिया।

दरअसल, प्रतियोगिता के बाद उनकी एक महिला फैन भारतीय झंडे पर ऑटोग्राफ लेने आई थी, मगर नीरज ने उन्हें तिरंगे पर ऑटोग्राफ देने बाद से इनकार कर दिया। इसको लेकर ट्विटर पर एक यूजर ने ट्वीट भी किया है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा ‘एक बहुत प्यारी हंगरी की महिला (जो वैसे तो बहुत अच्छी हिंदी बोलती थी) नीरज चोपड़ा का ऑटोग्राफ चाहती थी। नीरज ने कहा जरूर, लेकिन फिर उन्हें एहसास हुआ कि उसका मतलब भारतीय झंडे पर था। नीरज ने उनसे कहा ‘वहां नहीं साइन कर सकता। लास्ट में नीरज ने उनकी शर्ट पर ऑटोग्राफ दिए। वह फिर भी बहुत खुश थी।’

नीरज चोपड़ा ने पाकिस्तान के एथलीट के साथ खिंचवाया फोटो
इसके अलावा नीरज ने पाकिस्तान के एथलीट अरशद नदीम के साथ भी फोटो खिंचवाकर खूब सुर्खियां बटोरी। दरअसल, नीरज चोपड़ा तिरंगे के साथ चेक गणराज्य के एथलीट याकूब वालेश के साथ फोटो क्लिक करवा रहे थे। दोनों एथलीट के पास अपने-अपने देश का झंडा था। तभी नीरज की नजरें अरशद पर गईं और उन्हें फोटो क्लिक कराने के लिए बुलाया।

घर में जश्न का माहौल
वहीं नीरज चोपड़ा की जीत से उनके घर-गांव में जश्न का माहौल है। 88.17 मीटर भाला फेंक वह विश्व विजेता बने तो उनके गांव खंडरा में लड्डू बांटकर खुशी मनाई गई। देर रात ही पूरा गांव खुशी से झूम उठा।

नीरज चोपड़ा का लाइव मैच देखने के लिए लोग उनके घर पहुंचे थे। गोल्ड मेडल जीतते ही लोगों ने ताली और सीटी बजाकर जश्न मनाया। नीरज के चाचा भीम चोपड़ा व पिता सतीश चोपड़ा ने गले लगकर एक दूसरे को बधाई दी। दोनों ने एक सुर में कहा कि देश की उम्मीदों पर सोना सा खरा उतरा निज्जू (नीरज चोपड़ा)। नीरज विश्व एथलेटिक्स प्रतियोगिता में गोल्ड जीतने वाले भारत के पहले एथलीट बन गए हैं।

मां ने कहा था- बेटा इस बार फिर स्वर्ण जीतेगा
हंगरी के बुडापोस्ट में आयोजित हो रही विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में नीरज के लिए पहले से ही प्रार्थनाओं और दुआओं का दौर शुरू हो गया था। पिता सतीश कुमार ने कहा कि पूरे देश की दुआएं व प्रार्थना नीरज के साथ हैं। उन्होंने नीरज के मैच को लेकर किसी तरह की बड़ी पूजा या अनुष्ठान नहीं किया है। वह भी देश का हिस्सा हैं। मां सरोज देवी ने कहा था कि बेटा इस बार फिर से स्वर्ण जीतेगा, उन्हें इसका पूरा यकीन है। जिस पर नीरज चोपड़ा खरे उतरे।

 

- Advertisement -spot_img
- Advertisement -spot_img

Latest Recipes

- Advertisement -spot_img

More Recipes Like This

- Advertisement -spot_img