पुष्कर सिंह धामी सरकार ने राज्य में स्थापित विभिन्न आयोग, परिषद, समितियों का ब्योरा जुटाना शुरू कर दिया। सीएम कार्यालय ने सभी विभागों से दायित्व वाले रिक्त पदों का ब्यौरा तलब किया गया है।

पुष्कर सिंह धामी सरकार ने राज्य में स्थापित विभिन्न आयोग, परिषद, समितियों का ब्योरा जुटाना शुरू कर दिया। सीएम कार्यालय ने सभी विभागों से दायित्व वाले रिक्त पदों का ब्यौरा तलब किया गया है।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी सरकार ने राज्य में स्थापित विभिन्न आयोग, परिषद, समितियों का ब्योरा जुटाना शुरू कर दिया। सीएम कार्यालय ने सभी विभागों से उनके अधीन संचालित संस्थाओं में दायित्व वाले रिक्त पद, वर्तमात में तैनात महानुभावों के नाम और कार्यकाल का विवरण मांगा है।

यह कसरत भाजपा नेता और कार्यकर्ताओं को सत्ता में भागीदारी देने के क्रम में मानी जा रही है।  भाजपा प्रदेश संगठन भी दायित्वों के लिए पात्र नेताओं की सूची तैयार कर रहा है। जिसे जल्द ही सरकार को सौंप दिया जाएगा। संयुक्त सचिव-सीएम संजय टोलिया की ओर से हाल में ही सभी विभागों को पत्र जारी कर महानुभावों के बाबत जानकारी मांगी गई है।

इसमें रिक्त पदों की जानकारी तो मांगी ही गई है। साथ में वर्तमान में कार्यरत लोगों के नाम, पदनाम और कार्यकाल विवरण भी मांगा है। इस रिपोर्ट में विभागों को राज्य स्तरीय पदों का विवरण भी देना होगा।  जिला स्तरीय राज्य के साथ सीएम कार्यालय के निर्देश के बाद सभी विभाग सक्रिय हो गए हैं। शिक्षा विभाग में अपर माध्यमिक शिक्षा निदेशक रामकृष्ण उनियाल ने सभी मंडलीय अपर निदेशक और सीईओ को जल्द से जल्द रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

250 के करीब हैं दायित्व के पद
राज्य में आयोग, परिषद और जिला स्तरीय समितियों में ढाई सौ से ज्यादा पद हैं। इनमें कुछ संवैधानिक पदों पर सरकार नियुक्तियां कर चुकी हैं। भाजपा संगठन की ओर पिछले काफी समय से पार्टी के योग्य कार्यकर्ताओं को दायित्व देने की मांग उठ रही है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र भट्ट कह चुके हैं कि पात्र कार्यकताओं के चयन के लिए दो स्तर पर बैठक हो चुकी है। अब प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम के साथ बैठक में इसे अंतिम रूप दिया जाएगा। फिर दायित्वों की संभावित सूची को सरकार को सौंपा जाएगा।

Anju Kunwar

Learn More →

Must Read