हिमालय दिवस पर दिनेश लाल और डॉ. देवयानी का हुआ सम्मान

देहरादून:

हिमालयीय विश्वविद्यालय देहरादून के सभागार में हिंदी विभाग द्वारा आयोजित एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं हिमालय दिवस के अवसर

मुख्य अतिथि  हरिद्वार सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने हिमालयीय आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज की पूर्व छात्रा डॉ देवयानी सेमवाल को यूरोप की सबसे ऊँची चोटी का सफलता पूर्वक आरोहण करने और श्री दिनेश लाल को हिमालयीय शिल्प कला के संरक्षण, संवर्धन के लिए किये गए विशेष योगदान के लिए सम्मान पत्र, शॉल भेंट और पांच हजार की नकद सम्मान राशि से सम्मानित किया। हिमालय दिवस पर डॉ. निशंक ने विश्वविद्यालय परिसर में वृक्षारोपण भी किया। इस अवसर पर हिमालयीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.काशीनाथ जेना जी , प्रति-कुलपति डॉ. राजेश नेथानी,डॉ. योगेंद्रनाथ शर्मा ‘अरुण ‘ जी, डॉ. सुशील उपाध्याय जी, डॉ. सुचित्रा मलिक जी, श्रीमती रश्मि चौहान जी, डॉ. अनिल कुमार झा,डॉ मनीषा अग्रवाल,डॉ निशांत जैन, डॉ. ममता कुंवर सहित समस्त शिक्षक, शोधार्थी और कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

हिंदी विभाग ने किया एक दिवसीय  राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

हिमालयीय विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के द्वारा हिंदी : विविध रूपों में मनन एवं मूल्यांकन विषय पर एकदिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी के उद्धघाटन सत्र में मुख्य अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार डॉ योगेंद्रनाथ शर्मा अरुण, विशिष्ट अतिथि डॉ सुचित्रा मलिक, डॉ सविता मोहन और डॉ सुशील उपाध्याय ने दीप प्रज्वलन कर शुभारम्भ किया। डॉ अनूप बलूनी ने संगोष्ठी का विषय प्रवर्तन किया। इस अवसर पर डॉ अरुण ने कहा कि हिंदी भारत की आत्मा है, हमारी मातृभाषा है। विश्व में तीसरी सबसे अधिक बोली जाने वाली हिंदी भाषा ने वैश्विक स्तर पर अपनी लोकप्रियता बनाई है। उद्घाटन सत्र के बाद तकनीकी सत्रों का आयोजन किया गया जिसमे बीस से अधिक वक्ताओं और शोधार्थियों ने अपने शोध पत्र वाचन किये।

संगोष्ठी के समापन अवसर पर मुख्य अतिथि हरिद्वार सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक और विशिष्ट अतिथि ऋषिकेश महापौर श्रीमती अनीता ममगाईं ने डॉ ममता कुंवर, डॉ मनीषा अग्रवाल और डॉ राजेश नेथानी की स्वरचित पुस्तकों का लोकार्पण किया।

डॉ निशंक ने कहा कि हर भारतवासी को हिंदी बोलने पर गर्व होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि संविधान में उल्लेखित सभी भारतीय भाषाओं को हिंदी आत्मसात करती है और सभी को साथ लेकर चलती है। उन्होंने हिंदी विभाग को सफल आयोजन के लिए बधाई दी।  इस अवसर पर हिमालयीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो.काशीनाथ जेना  , प्रति-कुलपति डॉ. राजेश नेथानी,डॉ. योगेंद्रनाथ शर्मा ‘अरुण ‘ डॉ सविता मोहन , डॉ. सुशील उपाध्याय , डॉ. सुचित्रा मलिक , श्रीमती रश्मि चौहान, डॉ मनीषा अग्रवाल, डॉ निशांत जैन, डॉ अनूप बलूनी, विपिन भट्ट, डॉ सुप्रिया रतूड़ी सहित समस्त शिक्षक, शोधार्थी और विश्वविद्यालय के कर्मचारीगण उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन डॉ ममता कुंवर द्वारा किया गया।

[10/09, 18:53] Ravinder Belwaal: हिमालयीय विश्वविद्यालय, देहरादून में ‘हिमालय दिवस ‘ के अवसर पर  हिमालयीय आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज, देहरादून की BAMS 2014  बैच की छात्रा डॉ. देवयानी सेमवाल द्वारा यूरोप महाद्वीप की सबसे ऊँची चोटी माउंट अल्ब्रस को सफलतापूर्वक आरोहण करने पर सम्मानित किया।

आज हिमालयीय विश्वविद्यालय के आन्तरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ (IQAC) के अन्तर्गत हिन्दी विभाग द्वारा एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी (विषय : हिन्दी: विविध संदर्भों में मनन एवं मूल्यांकन) कार्यक्रम में प्रतिभाग कर उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों एवं छात्रों को संबोधित किया।

उक्त कार्यक्रमों में रविन्द्र बेलवाल ,सदस्य सलाहकार समिति देहरादून हवाई अड्डा भी उपस्थित है

Anju Kunwar

Learn More →

Must Read