Chandrayaan-3 की सफलता पर कैबिनेट में प्रस्ताव पारित, अनुराग बोले- वैज्ञानिकों की मेहनत को विश्व ने सराहा

भारत के चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफलता को लेकर पूरे देश में खुशी का माहौल देखने को मिला। आम हो या खास हर किसी ने चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफलता के लिए इसरो को बधाई। इस बीच केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चंद्रयान-3 को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ये प्रस्ताव चंद्रयान-3 के चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग की सराहना करते हुए पारित किया है।

नई दिल्ली । भारत के चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफलता को लेकर पूरे देश में खुशी का माहौल देखने को मिला। आम हो या खास हर किसी ने चंद्रयान-3 (Chandrayaan-3) की सफलता के लिए इसरो को बधाई। इस बीच केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चंद्रयान-3 (Union Cabinet on Chandrayaan-3) को लेकर एक प्रस्ताव पारित किया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ये प्रस्ताव चंद्रयान-3 के चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग की सराहना करते हुए पारित किया है।

चंद्रयान-3 की सफलता को लेकर केंद्रीय मंत्रिमंडल में प्रस्ताव पारित

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने चंद्रयान-3 की सॉफ्ट लैंडिंग की सराहना की और इस मिशन की सफलता के लिए इसरो को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि चंद्रयान-3 की सफलता न केवल इसरो के लिए बड़ी कामयाबी है बल्कि वैश्विक मंच पर भारत की ताकत का प्रतीक है।

कैबिनेट ने वैज्ञानिकों की सफलता को सराहा- अनुराग

केंद्रीय कैबिनेट ब्रीफिंग के दौरान केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने बताया कि पूरा देश चंद्रयान-3 की सफलता का जश्न मना रहा है। इसलिए कैबिनेट ने भारतीय वैज्ञानिकों की इस ऐतिहासिक उपलब्धि की सराहना की है और इसे लेकर एक प्रस्ताव भी पारित किया है। उन्होंने कहा कि भारत चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरने वाला दुनिया का पहला देश बन गया है, जो हमारे वैज्ञानिकों की बड़ी कामयाबी है।

‘वैज्ञानिकों ने चुनौतियों के बावजूद सफलता हासिल की’

अनुराग ठाकुर ने कहा कि वैज्ञानिकों ने कठिन चुनौतियों का सामना किया और चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर चंद्रयान-3 को सफलतापूर्वक उतारा। यह हमारे वैज्ञानिकों की मेहनत का नतीजा है कि पहली बार दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग की।

सॉफ्ट लैंडिंग पर इसरो को दी बधाई

बता दें कि चंद्रयान-3 को 14 जुलाई को आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से लॉन्च किया गया था। चंद्रयान-3 ने 23 अगस्त को शाम 6:04 बजे चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सॉफ्ट लैंडिंग की थी। पीएम मोदी से लेकर दुनिया भर के राष्ट्राध्यक्षों ने इसरो को बधाई दी थी।

Anju Kunwar

Learn More →

Must Read