“चक्रवात की चेतावनी के बावजूद, चीन अभी भी ताइवान के करीब सैन्य विमान और तीन जहाज भेज रहा है।”

ताइवान के रक्षा मंत्रालय के मुताबिक, चीन के विमान और जहाजों के मार्ग का खुलासा नहीं हो सका, क्योंकि यह सभी ताइवान और चीन के बीच जलडमरूमध्य की मध्य रेखा को पार नहीं कर पाए थे।

चीन ने बुधवार और गुरुवार को ताइवान को घेरने के लिए अपने एक सैन्य एयरक्राफ्ट के साथ तीन शिप्स को साथ भेजा। चौंकाने वाली बात यह है कि ड्रैगन ने यह हरकत ऐसे समय में की है, जब ताइवान जलडमरूमध्य में भीषण चक्रवात आने की चेतावनी जारी की गई है। इसके बावजूद चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की वायुसेना और नौसेना ने अपने एय़रक्राफ्ट और शिप्स को ताइवान की सीमा के काफी करीब भेज दिया।

“ताइवान के रक्षा मंत्रालय के अनुसार, चीन के विमानों और जहाजों के मार्ग का पर्दाफाश नहीं किया जा सका, क्योंकि ये सभी ताइवान और चीन के बीच मध्य रेखा को पार नहीं कर पाए थे। इसलिए ताइवान की रक्षा प्रणालियों को अब तक आपत्ति की कोई बात नहीं थी। मंत्रालय ने यह भी बताया कि वह चीन की हरकतों को मानिटर करने के लिए आवश्यक उपकरणों को तैयार रख रहा है।”

Anju Kunwar

Learn More →

Must Read